LIC डीमैट खाता कैसे खोले? HOW TO OPEN LIC DEMAT ACCOUNT?

 नमस्कारदोस्तों आज के आर्टिकल में हम आपको LIC डीमेट अकाउंट कैसे open करे? और डीमेट अकाउंट क्या होता है? और इससे सम्बंधित सारी जानकारी इस आर्टिकल में विस्तार से समझाने की कोशिश करेंगे|

तो दोस्तों सबसे पहले हम डीमेट खाता क्या होता है? उसके बारे में जानकारी देना चाहते है क्योंकि आप अगर इसे समझ गये तो फिर तो बेंक को बदलना है बाकी चीजे सेम ही रहेगी| इसलिए आपसे अनुरोध है की आप इस र्तिक्ले को अंत तक जरुर पढ़े| जिसे आप डीमेट के बारे में जान सको औरLIC में डीमेट खाता open कर सको|

डीमैट अकाउंट क्या है – what isDemat Account in Hindi

अगर आप किसी भी चीज में निवेश करते है या फिर निवश की सोच रहे है तो आपने डीमैट के बारे में जरुर सुना होगा| चलो छोडो, अगर आप दोनों नही करना नही चाहते और फिर यह आर्टिकल अपनी नॉलेज के लिए पढ़ रहे है तो आपने बहुत से टेलीविजन चेनलो के विज्ञापनों में देखा और सुना होगा की किसी भी प्रकार का निवेश करने के लिए डीमैट खाता होना बहुत जरूरी है| तोक्या होता है डीमैट खाता,आइये जानते है|

Demat Account लोगों के द्वारा शेयरों को खरीदने या बेचने के लिए इस्तेमाल किया जाता है| जिस प्रकार लोग अपना पैसा बैंक अकाउंट में रखते है ठीक उसी प्रकार लोग डीमैट खाता में अपने शेयर रखते है| जब भी हम अपने खाते से पैसा निकालने के लिए बेंक जाते है तो वो हमे पेपर ( भौतिक रूप ) में मिलते है| या फिर जब भी हम google PAY, या PHONEPE, PAYTM या अन्य से लेनदेन करते है तो वो एक डिजिटल करेंसी में होता है|उसी प्रकार जब भी हम अपने डीमैट खाते से पैसो का लेनदेन करते है तो यह दुसरे के डीमैट खाते में डिजिटली ट्रान्सफर हो जाते है| यहलेने वाले या फिर देने वाले को भौतिक रूप में लेनदेन नही होता है|

दुसरे शब्दों में कहें तो शेयरों को डिजिटली यानी की इलेक्ट्रॉनिक रूप से रखने की सुविधा को डिमैट कहते है|Dematका पूरा नाम “Dematerialize” होता है| सिक्योरिटीज यानी की शेयर आदि को भौतिक रूप में बदलने की प्रक्रिया को dematerialization कहा जाता है|

अब हम मुख्य विषय पर आते ही की LIC Demate खाता कैसे खोले? अगर आप भी जानना चाहते है तो पढ़ते रहिये

LIC Demate खाता कैसे खोले?How to open LIC Demat Account in hindi

अगर देखा जाए तो डीमैट खाता खोलना ज्यादा मुश्किल काम नही है परन्तु नए यूजर को यह जानना जरूरी हो जाता है| क्योंकि आधा-अधुरा ज्ञान हमेशा घातक होता है| अगर आप भी इस फिल्ड में नए है तो आप पहले रिसर्च कर ले फिर जाकर खता खोलने की कोशिश करे|

अगर आप डीमैट खाता खुलवाना चाहते है तो आपको पहले डिपॉजिटिरी पॉर्टिसिपेंट का चयन करना होगा|यह कोई अथराइज्‍ड बैंक, फाइनेंशियल इंस्‍टीट्यूशन या ब्रोकर हो सकता है| जिसके पास डीमैट अकाउंट खुलवाया जा सकता है. डिपॉजिटिरी पॉर्टिसिपेंटका चयन करना आमतौर पर ब्रोकरेज चार्जेज, एनुअल चार्ज और लीवरेज के आधार पर करना चाहिए| डिपॉजिटिरी पॉर्टिसिपेंटका चयन करने के बाद अकाउंट ओपनिंग फॉर्म और KYC फॉर्म भरकर सबमिट कराना होगा| इसके साथ आपको कुछ दस्तावेज देना होगा जो निम्न है

  • पेन कार्ड – यह सबसे ज्यादा जरूरी है| इसके बिना तो यह कार्य मुश्किल है|
  • आवेदक का पता – जो आपके निवास का पता बताता हो|
  • आवेदक का पहचान सत्यापन कार्ड – जैसे – आधार कार्ड, पहचान पत्र आदि
  • पासपोर्ट साइज़ पेपर

अब आपको डीमैट खाता खोने के लिए सबसे पहले उसकी टर्म और कंडीशन को ध्यान से पढ़ना होगा अगर आप उसकी नियम और शर्तो से संतुष्ट है तो आपको आगे बढे और अगर आपके मन में किसी भी तरह का कोई भी प्रश्न है या कुछ संलोच है तो कृपया पहले use जरुर solve कर लेवे|

अगर आप अपना डीमैट खाता खुलवा लेते है तो आपको DP का एक यूनिक id मिलेगी| इसकी मदद से आप अपने डिपॉजिटिरी पॉर्टिसिपेंट (DP) को ऑनलाइन access कर पायेंगे|डीमैट अकाउंट में शेयर या फाइनेंशियल सिक्‍युरिटीज की कोई Minimum Balanceकी जरूरत नहीं होती है| आप एकPAN cardपर एक से अधिक डीमैट अकाउंट लिंक्‍स कर सकते हैं, हालांकि, डीपी यानी डिपॉजिटिरी पॉर्टिसिपेंट अलग-अलग होना चाहिए|

ऑनलाइन डीमैट खाता की खोले?

अब हम आपको डीमैट खाता ऑनलाइन कैसे open करते है उसके बारे में विस्तार से बताने की कोशिश करते है| इसके लिए आपको पढना जारी रखना होगा|

  • सबसे पहले आपको डिपॉजिटिरी पॉर्टिसिपेंट ( DP) की वेबसाइट पर जाना होगा| वेबसाइट CDSL.com
  • अब आपको Click here to open an online demat account पर क्लिक करना होगा|
  • अब आपके सामने DP name दिखाई देगा| अपनी पसंद की DP name के आगे क्लिक हियर वाले बटन पर क्लिक करना होगा|
  • अब आपको अपने मोबाइल नंबर डालकर डीमैट खात खोल देना है उसके लिए आपको उसकी जो भी ओप्चारिता होगी ध्यान से भरनी होगी|
  • आपके डॉक्यूमेंट को अपलोड करना होगा|
  • जैसे आपके द्वारा प्रक्रिया को पूरा कर लिया जाता है तो आपके दस्तावेज का जांचने का काम डीपी एक्जीक्यूटिव के द्वारा किया जाएगा|
  • फोन कॉल या ब्रोकरेज फर्म के एक्जीक्यूटिव से मिलकरके दस्तावेज का सत्यापन किया जा सकता है| आज के समय में ब्रोकरेज फर्म टेली-वेरिफिकेशन की भी सुविधा मुहैया करवा रही है|
  • जैसे ही डिटेल वेरीफाई हो जाती है तो आपका खाता शेयर ट्रेंडिंग के लिए मंजूरी मिल जाती है| अब आपको इससे सम्बंधित डिपॉजिटिरी पॉर्टिसिपेंट की पूरी जानकारी मिल जायेगी जायेगी जो आपके profile पर मिलेगी|

डीमैट खाता कौन खोलेगा

दोस्तों अपने देश भारत मे डीमैट खाता खोलने के लिए 2 तरीके है इन दोनों तरीके के माध्यम से आप आसानी से खाता खोल सकते है|

  • NSDL – National Securities Depository Limited
  • CDSL –  central securities depository limited

ये दोनों संस्थाए के माध्यम से आप डीमैट खाता खोल पायेंगे| अगर आप डीमैट खाता ऑनलाइन नही खोलना चाहते है अर्थात ऑफिस जाकर खोलना चाहते है तो हम इसके बारे में थोड़ी सी जानकारी दे देते है|

आप इनके Office जाकर अकाउंट खुलवा सकते है या फिर आप घर बेठे डिमैट अकाउंट ऑनलाइन इंटरनेट को सहायता से खोल सकते है. प्रक्रिया बहुत ही सरल है. पर इसको खोलने के लिए PAN कार्ड अनिवार्य है इस बात का ध्यान अवश्य रखें|

LIC डिमैट अकाउंट के फायदे

अब हम आपको इसके डीमैट खाते खोलने के आयदे बताते है|

  • अगर आप डीमैट खाते के माध्यम से शेयर को खरीदने के बाद आपको किसी भी तरह के सेफ्टी को लेकर चिंतित होने की वजह नही है क्योंकि यह बहुत ही ज्यादा सिक्योर है|
  • आज के समय में शेयरों का लेनदेन करने के लिए कोई मुश्किल काम नही है जैसा पहले होता था| अब सारा काम ऑनलाइन हो जाता है|
  • पहले शेयर्स को बेचना बहुत ही मुश्किल काम हुआ करता था, आपको सिर्फ एक समूह में ही शेयर्स को बेचना पड़ता था| इसके साथ ही आप ODD Number में शेयर को नहीं बेच सकते थे लेकिन अब ऐसा नहीं है. डीमैट खाते के जरिए आप 1 अकेले शेयर की भी खरीदफरोख्त कर सकते हैं|

निष्कर्ष

आज के इस आर्टिकल में हमने lic डीमैट खाता कैसे open करे? अह विस्तार से समझा है| सबसे पहले हमने डीमैट खाता क्या होता है? यह जाना और फिर हमने कैसे खोलते है और क्या-क्या इसके फायदे है विस्तार से समझा है|

अगर आपको यह आर्टिकल पसन् आया है तो अपने दोस्तों के साथ साझा जरुर करे| धन्यवाद


 

 

Leave a Comment